Thursday, May 26, 2022
33 C
Delhi
Thursday, May 26, 2022
- Advertisement -corhaz 3

US आधारित स्वास्थ्य विशेषज्ञ के अनुसार भारत में अगले महीने पीक |प्रतिदिन 5 लाख आ सकते हैं मामले

देश में प्रतिदिन कोरोना के मामलों में इजाफा हो रहा है, राज्यों द्वारा नए-नए प्रतिबंध भी लगाए जा रहे हैं। इस बीच एक और डराने वाली खबर सामने आई है। एक यूएस-आधारित स्वास्थ्य विशेषज्ञ के अनुसार भारत में अगले महीने तक कोरोना मामलों की संख्या चरम पर पहुंच जाएगी, देश में प्रति दिन पांच लाख मामले सामने आ सकते हैं। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि इस बार देश में ओमिक्रोन वैरिएंट की गंभीरता डेल्टा की तुलना में कम होगी।

इंस्टीट्यूट फॉर हेल्थ मेट्रिक्स एंड इवैल्यूएशन (आइएचएमइ) के निदेशक और वाशिंगटन विश्वविद्यालय में हेल्थ मेट्रिक्स साइंसेज के अध्यक्ष क्रिस्टोफर मरे ने कहा कि भारत समेत दुनिया भर के देश में ओमिक्रॉन वेव आने वाली है और उनका अनुमान है कि इस बार डेल्टा लहर की तुलना में प्रति दिन अधिक मामले होंगे, लेकिन ओमिक्रोन का असर बहुत कम गंभीर होगा और सारे रिकार्ड भी टूट सकते हैं।

प्रतिदिन आएंगे पांच लाख मामले

क्रिस्टोफर मरे के अनुसार वर्तमान में उनके पास एक मॉडल हैं जिन्हें वह बाद में जारी करेंगे, उनके अनुसार चरम पर लगभग पांच लाख मामलों के आने की उम्मीद हैं, जो अगले महीने में ही आ सकते हैं। विशेषज्ञ के अनुसार भारत में हाइब्रिड इम्युनिटी है जिसके कारण ओमिक्रोन कम प्रभावी होगा। डॉ मरे ने कहा कि टीकाकरण गंभीर बीमारी के लिए अस्पताल में भर्ती होने और मृत्यु से काफी सुरक्षा प्रदान करेगा, यही वजह है कि भारत में ओमिक्रोन के कई मामले होंगे, लेकिन डेल्टा लहर की तुलना में बहुत कम अस्पताल में भर्ती होंगे।

85.2 फीसद में संक्रमण का कोई लक्षण नहीं होगा

अस्पताल में भर्ती होने की संख्या और विविधता की गंभीरता के बारे में बोलते हुए मरे ने कहा कि 85.2 फीसद संक्रमणों में कोई लक्षण नहीं होगा। लेकिन मामलों की फिर भी काफी संख्या होने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि ओमिक्रोन 90 से 95 प्रतिशत कम गंभीर है, लेकिन अभी भी विशेष रूप से वृद्ध व्यक्ति बीमार हो सकते हैं।

More articles

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

Trending