Wednesday, June 19, 2024
43.1 C
Delhi
Wednesday, June 19, 2024
- Advertisement -corhaz 3

RCMP ने आतंकी निज्जर हत्याकांड में चल रही जांच पर दिया बयान | भारत ने निज्जर को 2020 में किया था आतंकवादी घोषित |

कनाडा की पुलिस ने खालिस्तानी आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या मामले में चल रही जांच पर बयान दिया है। रॉयल कनाडाई माउंटेड पुलिस (आरसीएमपी) ने कहा कि आतंकी निज्जर हत्याकांड की सक्रिय रूप से जांच चल रही है। प्रतिबंधित खालिस्तान टाइगर फोर्स (KTF) के प्रमुख 45 वर्षीय निज्जर की इसी साल 18 जून को कनाडा के ब्रिटिश कोलंबिया प्रांत के सरे में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। भारत सरकार ने 2020 में निज्जर को आतंकवादी घोषित किया था।

निज्जर की हत्या की जांच कनाडा पुलिस की इंटीग्रेटेड होमीसाइड इन्वेस्टिगेशन टीम (आईएचआईटी) कर रही है। आईएचआईटी के प्रवक्ता टिमोथी पिएरोटी (Timothy Pierotti) ने गुरुवार को मीडिया को बताया, हम हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के संबंध में की जा रही मीडिया रिपोर्ट्स से अवगत हैं। चूंकि अभी मामले की जांच चल रही है, मैं आईएचआईटी द्वारा जुटाए गए सबूतों को लेकर कोई टिप्पणी नहीं कर सकता हूं। पिएरोटी ने बताया कि पुलिस ने सबूतों के आधार पर इलाके की गहन जांच की है और मामले से संबंधित सभी वीडियो फुटेज जुटाए जा रहे हैं।

सीसीटीवी फुटेज की जांच
इस बीच, ब्रिटिश कोलंबिया के सरे स्थित गुरु नानक सिख गुरुद्वारा साहिब ने इस बात की जांच शुरू की है कि अमेरिकी अखबार वॉशिंगटन पोस्ट ने निज्जर की हत्या से जुड़े सीसीटीवी फुटेज को कैसे हासिल किया। बता दें, गुरु नानक सिख गुरुद्वारा साहिब में निज्जर की हत्या हुई थी। गुरुद्वारा के प्रवक्ता गुरकीरत सिंह ने कहा कि हमें बताया गया है कि यह वीडियो मीडिया और जनता के लिए नहीं जारी किया गया है क्योंकि अभी मामले की जांच चल रही है। अब इस वीडियो किसी को भी नहीं दिया जाएगा। सिंह ने कहा कि उन्होंने हत्या से संबंधित वीडियो कई बार देखा है। उन्होंने आगे कहा कि इस हत्याकांड को सोच-समझकर अंजाम दिया गया था। आरोपी कुछ समय से हरदीप सिंह की गतिविधियों पर नजर रख रहे थे। उन्हें इस बात का पता था कि निज्जर कहां जाता है और गुरुद्वारे से कब बाहर निकलता है।

कनाडाई प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने हाल ही में खालिस्तानी आतंकवादी निज्जर हत्याकांड में भारत की कथित संलिप्तता के आरोप लगाए थे, जिसके बाद से यह मामला सुर्खियों में है। ट्रूडो के बयान के बाद भारत और कनाडा के बीच तनाव बढ़ गया है। हालांकि, भारत ने ट्रूडो के आरोप को निराधार और राजनीति से प्रेरित बताते हुए खारिज कर दिया है।  

More articles

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

Trending