Monday, May 23, 2022
23.1 C
Delhi
Monday, May 23, 2022
- Advertisement -corhaz 3

23 साल के बजरंग दल कार्यकर्ता की हत्या पर था 10 लाख का इनाम |

हिजाब विवाद के बीच रविवार को कर्नाटक के शिवमोगा में बजरंगदल कार्यकर्ता हर्षा की हत्या कर दी गई। शिवमोगा पुलिस ने मंगलवार तक जिले में कर्फ्यू लगाने की बात की है। इस घटना को लेकर सत्ताधारी भाजपा और विपक्षी कांग्रेस आमने-सामने हैं। इस बीच भास्कर ने बजरंगदल कार्यकर्ता के परिवार से बात की। परिवार ने कहा कि हर्षा की हत्या करने वाले को 10 लाख रु. इनाम देने का ऐलान किया गया था।

परिवार ने कहा कि हर्षा कुछ दिन पहले ही बजरंग दल छोड़ चुका था। उसे धमकियां मिल रही थीं और इसकी शिकायत पुलिस को दी गई थी। पुलिस का कहना है कि वह मामले की जांच कर रही है। वहीं शिवमोगा जिले के प्रभारी मंत्री के.एस. नारायण गौड़ा ने कहा है कि स्थिति कंट्रोल में है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने कासिफ और नदीम को गिरफ्तार किया है। आरोपी नदीम पर 10 मामले दर्ज हैं।

अंतिम यात्रा के दौरान भी हुई थी हिंसा, अब 500 पुलिसवाले तैनात
रविवार रात करीब 9 बजे हर्षा की चाकू मारकर पर हत्या कर दी गई थी। वह 26 साल का था।​ जब हर्षा की शव यात्रा में हिंसा भी हुई। शिवमोगा के SP लक्ष्मी प्रसाद बीएम ने कहा जुलूस खत्म होने के बाद सब कुछ शांतिपूर्ण है। 500 से ज्यादा पुलिस फोर्स तैनात की गई है। इस मामले में अब तक तीन लोग अरेस्ट हुए हैं, दो और गिरफ्तारियां बाकी हैं, लेकिन पुलिस ने उनकी पहचान उजागर नहीं की है, न ही हत्या के कारण बताए हैं।

तनाव के चलते स्कूल-कॉलेज बंद
शव यात्रा में हिंसा के दौरान प्रदर्शन कर रहे लोगों को कंट्रोल करने पुलिस को कई जगहों पर आंसू गैस का इस्तेमाल करना पड़ा था। सुरक्षा के चलते शहर में धारा 144 लागू की गई है। शिवमोगा में हालात काबू में रखने के लिए एहतियात के तौर पर स्कूल-कॉलेज दो दिन के लिए बंद किए गए हैं।

डीके शिवकुमार पर उकसाने का आरोप, कांग्रेस नेता बोले- दंगे भाजपा करा रही

राज्य के मंत्री केएस ईश्वरप्पा ने घटना को धार्मिक रंग देते हुए कहा, ‘हर्षा की हत्या मुस्लिम गुंडों ने की है। हत्या के लिए कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने उकसाया था।’ जवाब में डीके शिवकुमार ने कहा, ‘भाजपा धर्म के नाम पर दंगा करा रही है। ईश्वरप्पा के खिलाफ तुरंत मुकदमा दर्ज होना चाहिए।’ भाजपा नेता बीएल संतोष ने कहा, ‘हर्षा की हत्या एंटी हिजाब प्रोटेस्ट की वजह से हुई है।’

कर्नाटक के होन्नाली से भाजपा विधायक सांसद रेणुकाचार्य द्वारा हर्ष के परिवार को 2 लाख रुपए के मुआवजे की भी घोषणा की गई है। शिवमोगा जिले के प्रभारी मंत्री केसी नारायण गौड़ा ने कहा कि बजरंग दल कार्यकर्ता की हत्या की घटना बिना समर्थन के नहीं हो सकती। उन्होंने बताया कि आरोपी और मृतक के बीच हाथापाई हुई थी।

हर्षा ने फेसबुक पर हिजाब के खिलाफ पोस्ट की थी
शुरुआती जांच में पुलिस इसे हिजाब विवाद से जोड़कर देख रही है, क्योंकि हर्ष ने अपने फेसबुक प्रोफाइल पर हिजाब के खिलाफ और भगवा शॉल के समर्थन में पोस्ट लिखी थी। दरअसल, कर्नाटक के उडुपी में हिजाब विवाद सामने आने के बाद से ही बजरंग दल काफी सक्रिय है। इसीलिए हर्ष की हत्या में साजिश के एंगल का शक गहरा गया है। हालांकि, पुलिस इस पर कुछ भी बोलने से बच रही है।

घरों-दुकानों पर पथराव, गाड़ियां भी जलाई गईं थीं
वारदात के बाद के बाद शिवमोगा में तनाव बढ़ गया। सोमवार को मुस्लिम बहुल इलाके आजाद नगर में भीड़ जुट गई। दुकानों पर तोड़फोड़ की। बाहर खड़े वाहनों में आग लगा दी गई। शाम तक तनाव बरकरार रहा। शहर के सीगेहट्टी इलाके में उपद्रवियों ने कई वाहनों में आग लगा दी। बढ़ते हंगामे के मद्देनजर शहर में धारा 144 लागू कर दी गई है। पुलिस ने बलप्रयोग कर भीड़ को हटाया।

More articles

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

Trending