Saturday, March 2, 2024
20.1 C
Delhi
Saturday, March 2, 2024
- Advertisement -corhaz 3

खाद्य वस्तुओं की कीमतों में कमी के चलते जुलाई से अगस्त के महीने में महंगाई घटकर 6.83 फीसदी पर आई |

खाद्य वस्तुओं की कीमतों में नरमी के कारण जुलाई की तुलना में अगस्त में खुदरा महंगाई घटकर 6.83 फीसदी रह गई। आधिकारिक आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। 

सीपीआई आधारित महंगाई में गिरावट
राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) की ओर से मंगलवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) आधारित महंगाई जुलाई 2022 में 7.44 फीसदी थी, जबकि यह अगस्त 2022 में 7 फीसदी रह गई। खाद्य महंगाई अगस्त में घटकर 9.94 फीसदी पर आ गई, जो जुलाई में 11.51 फीसदी थी।

आरबीआई ने 2023-24 के लिए लगाया यह अनुमान
भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने 2023-24 के लिए उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित महंगाई 5.4 फीसदी रहने का अनुमान लगाया है।

सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय (एमओएसपीआई) के राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) ने अगस्त 2023 (प्रोविजनल) के लिए आधार 2012 = 100 पर उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) और ग्रामीण (आर), शहरी (यू) और संयुक्त (सी) के लिए संबंधित उपभोक्ता खाद्य मूल्य सूचकांक (सीएफपीआई) जारी किया है। 

कैसे इकट्ठा किए जाते हैं कीमतों के आंकड़े
उपभोक्ता मूल्य सूचकांक देशभर (सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों) के उप-समूहों और समूहों के लिए भी जारी किए गए हैं। एनएसओ, एमओएसपीआई के फील्ड ऑपरेशंस डिवीजन के फील्ड स्टाफ द्वारा साप्ताहिक रोस्टर पर व्यक्तिगत दौरे किए जाते हैं, जिसके माध्यम से सभी राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को कवर करते हुए चयनित 1114 शहरी बाजारों और 1181 गांवों से मूल्य आंकड़े एकत्र किए जाते हैं। 

एनएसओ ने ग्रामी और शहरी बाजारों से इकट्ठा कीं कीमतें
अगस्त 2023 के महीने के दौरान एनएसओ ने 99.6% गांवों और 98.3% शहरी बाजारों से कीमतें इकट्ठा कीं। रिपोर्ट किए गए बाजारवार मूल्य ग्रामीण के लिए 88.8% और शहरी के लिए 91.3% थे।

सब्जी, मांस-मछली सस्ती होने का असर
एनएसओ के आंकड़ों के मुताबिक, मांस और मछली, अंडे, खाद्य व पेय और सब्जियों की कीमतें सस्ती हुई हैं। जिसके कारण खुदरा महंगाई में यह गिरावट देखने को मिली है। 

More articles

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

Trending