Saturday, May 21, 2022
31.1 C
Delhi
Saturday, May 21, 2022
- Advertisement -corhaz 3

कांग्रेस नेता ने स्मृति इरानी से पूछे बढ़ते पेट्रोल और LPG के दामों पर तीखे सवाल|

केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. रविवार को महिला कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष नेट्टा डी सुज़ा ने एक फ्लाइट में ही स्मृति इरानी से पेट्रोल के साथ एलपीजी की बढ़ती क़ीमतों के बारे में सवाल पूछे.

दोनों इंडियो की एक ही फ्लाइट में थीं. दोनों के बीच पहले कुछ बातचीत विमान के भीतर हुई और कुछ बातचीत गुवाहाटी एयरपोर्ट पर.

1.11 मिनट के इस वीडियो को कांग्रेस नेता ने 12.07 बजे ट्विटर पर अपलोड किया और रात के नौ बजने तक इसे लेकर ख़ूब बात होने लगीं. इरानी के कुछ जवाब समझ में नहीं आ रहे हैं.

लेकिन जो बात सुनाई दे रही है, उसमें स्मृति इरानी कह रही हैं कि अच्छा होता कि आप यात्रा में इस तरह से टोक-टाक नहीं करतीं. इसके बाद इरानी ने कहा कि आप झूठ मत बोलिए. इसे लेकर कोलकाता से प्रकाशित होने वाला अख़बार द टेलिग्राफ़ ने डी सुज़ा से बात की है. उन्होंने टेलिग्राफ़ से कहा, ”महिला और बाल विकास मंत्री ने महंगाई बढ़ने के कारण को मुफ़्त में कोविड वैक्सीन से जोड़ा.

अख़बार ने लिखा है कि भारत में मुफ़्त में वैक्सीन कोई पहली बार नहीं लगी है. अख़बार ने लिखा है कि आज़ादी के बाद से कई बड़ी बीमारियों को लेकर मुफ़्त में ही वैक्सीन दी गई है.

डी सुज़ा ने वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा है, ”जब उनसे बढ़ती महंगाई के बारे में पूछा तो उन्होंने वैक्सीन, राशन और यहाँ तक की ग़रीबों को दोषी ठहरा दिया.”

अख़बार ने लिखा है कि जब यूपीए की सरकार थी तब स्मृति ईरानी एलपीजी की क़ीमत बढ़ने पर ख़ाली गैस सिलिंडर के साथ विरोध-प्रदर्शन करती थीं.

डी सुज़ा असम में महिला कांग्रेस के कार्यक्रम में शामिल होने पहुँची हैं. डी सुज़ा ने टेलिग्राफ़ से कहा कि मंत्री का बढ़ती महंगाई पर जवाब पूरी तरह से अतार्किक था. कांग्रेस नेता ने कहा कि 2011 में यही स्मृति इरानी ख़ाली सिलिंडर लेकर विरोध प्रदर्शन करती थीं.

कांग्रेस नेता ने कहा कि स्मृति इरानी एलपीजी की क़ीमत 415 से 435 रुपए करने पर विरोध-प्रदर्शन कर रही थीं लेकिन एक अब प्रति सिलिंडर एक हज़ार रुपए से ज़्यादा क़ीमत हो गई है.

डी सुज़ा ने कहा, ”वह फ़र्स्ट क्लास में थीं. मैंने देखा कि एयरहोस्टेस और स्टाफ़ के साथ तस्वीरें क्लिक करवा रही हैं. जब वह विमान से उतरने लगीं तो मैंने बढ़ती महंगाई को लेकर सवाल पूछे. सवालों का जवाब देने के बजाय वह परेशान हो गईं.”

असम के मंत्री पिजुश हज़ारिका ने डी सुज़ा की आलोचना की है. उन्होंने ट्वीट कर कहा है, ”हमारी संस्कृति में अतिथि का दर्जा भगवान की तरह है. महिला कांग्रेस अध्यक्ष का आचरण ठीक नहीं था. गुवाहाटी एयरपोर्ट पर उन्होंने स्मृति इरानी जी को रास्ते में रोक टोक टाक किया. यह असम की संस्कृति नहीं है.”

More articles

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

Trending