Monday, May 27, 2024
34.1 C
Delhi
Monday, May 27, 2024
- Advertisement -corhaz 3

कश्मीर में सुरक्षाबलों ने 16 घंटो में 3 एनकाउंटर किए

कश्मीर में पिछले 16 घंटों के भीतर सुरक्षाबलों ने दो अलग-अलग मुठभेड़ों में तीन आतंकवादियों को मार गिराया है। जिला कुलगाम में गत वीरवार से जारी मुठभेड़ में सुरक्षाबलोें ने बड़ी सफलता हासिल की है। यहां मार गिराए गए हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकवादियों में जिला कमांडर शिराज मौलवी व यावर भट शामिल हैं। हालांकि गत वीरवार को ही सुरक्षाबलों ने श्रीनगर में हुई मुठभेड़ में मुजाहिदीन गजवातुल हिंद के ही एक आतंकी को मारा था। आपको जानकारी हो कि जम्मू-कश्मीर में जनवरी से अब तक हुई 69 मुठभेड़ों में सुरक्षाबलों ने 135 आतंकवादियों को मार गिराया है।

आइजीपी कश्मीर विजय कुमार ने कुलगाम में दो व श्रीनगर में एक आतंकी के मारे जाने की पुष्टि करते हुए कहा कि। कुलगाम में मार गिराया गया हिजबुल मुजाहिदीन का जिला कमांडर शिराज मौलवी वर्ष 2016 से कश्मीर में आतंकी गतिविधियों में शामिल था। उसने इस दौरान जहां कई निर्दोष लोगों की जान ली वहीं घाटी के बेरोजगार युवाओं को बरगलाकर आतंकवाद में शामिल किया। उसकी मौत सुरक्षाबलों के लिए बड़ी सफलता है। पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार हिजबुल जिला कमांडर शिराज अहमद उर्फ शिराज मौलवी ए++ श्रेणी का आतंकवादी था। उसके खिलाफ विभिन्न थानों में करीब 19 मामले दर्ज थे। वहीं यावर अहमद सी श्रेणी का आतंकवादी था। उसके खिलाफ भी तीन मामले दर्ज थे। वह मार्च 2021 से सक्रिय था।

कुलगाम में यह मुठभेड़ दोपहर बाद शुरू हुई। सुरक्षाबलों को जानकारी मिली कि कुलगाम के चवलगाम में दो से तीन आतंकी देखे गए हैं। सूचना मिलते ही सेना की 9 आरआर व एसओजी के जवान मौके पर पहुंच गए और तलाशी अभियान शुरू कर दिया। सुरक्षाबलों को नजदीक आता देख आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई से पूर्व आतंकियों को आत्मसमर्पण करने के लिए कहा परंतु जब वे नहीं माने तो सुरक्षाबलों ने भी फायरिंग शुरू कर दी। मुुठभेड़ में एक आतंकवादी को मार गिराया गया।

अंधेरा होने की वजह से मुठभेड़ को सुबह तक के लिए टाल दिया गया। इस बीच आसपास रहने वाले लोगाें को सुरक्षित स्थानों पर भेज दिया गया। तड़के एक बार फिर आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ शुरू हुई और इस दाैरान दूसरे आतंकी को भी ढेर कर दिया। दोनों आतंकियों के मारे जाने के बाद सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ स्थल के आसपास तलाशी अभियान चलाया। जब इस बात की पुष्टि हो गई कि वहां और कोई आतंकी मौजूद नहीं है तो दोनों के शवों व मुठभेड़ स्थल से बरामद हथियार को लेकर सुरक्षाकर्मी वहां से लौट गए।

आइजीपी कश्मीर ने कहा कि मारे गए दोनों आतंकवादी हिजबुल मुजाहिदीन के थे जबकि इनमें एक जिला कमांडर शिराज मौलवी है। वहीं गत वीरवार को ही श्रीनगर में हुई एक अन्य मुठभेड़ में मारा गया आतंकी आमिर रियाज निवासी पुलवामा प्रतिबंधित आतंकी संगठन मुजाहिदीन गजवतुल हिंद से संबंधित था। आइजीपी कश्मीर विजय कुमार ने बताया आमिर लेथपोरा फिदायीन हमले के एक आरोपी का रिश्तेदार था।

More articles

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

Trending