Friday, December 3, 2021
14.1 C
Delhi
Friday, December 3, 2021
- Advertisement -corhaz 3

आज चंडीगढ़ में प्रेस कांफ्रेंस के जरिये अमरिंदर सिंह करेंगे अपनी पार्टी लॉन्च

पंजाब (Punjab) के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) आज नई पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस (Punjab Lok Congress) लॉन्च कर सकते हैं. बुधवार की इस संभावित सियासी घोषणा पर पंजाब से लेकर दिल्ली की राजनीति की नजरें बनी हुई हैं. पिछले हफ्ते ही कैप्टन के सलाहकार ने भी नई पार्टी के जल्द ऐलान होने के संबंध में सूचना जारी की थी. कैप्टन ने सितंबर में पंजाब सीएम पद से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद पार्टी ने चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) को प्रदेश की कमान दी थी.

कैप्टन के सलाहकार रवीन ठुकराल ने मंगलवार को मीडिया को आमंत्रित करते हुए ट्वीट किया, ‘कार्यक्रम का लाइव प्रसारण फेसबुक पेज पर किया जाएगा. बने रहें.’ 19 अक्टूबर को ठुकराल ने पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री के हवाले से लिखा था कि वे जल्द ही नई पार्टी की घोषणा करने वाले हैं. साथ ही वे किसान मुद्दे सुलझने की स्थिति में भारतीय जनता पार्टी के साथ सीटें साझा करने पर विचार कर रहे हैं.

कहा जा रहा था कि तीन नए कृषि कानूनों को लेकर कैप्टन किसान और सरकार के बीच मध्यस्थ की भूमिका निभा सकते हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, संयुक्त किसान मोर्चा ने इस तरह के किसी भी प्रयास की बात से इनकार किया था. दिल्ली की सरहदों पर लंबे समय से किसानों का विरोध जारी है. वे सरकार से तीन कृषि कानून वापस लेने की मांग कर रहे हैं.

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू से महीनों चली तनातनी के बाद कैप्टन ने सीएम पद छोड़ दिया था. इसके कुछ ही दिनों बाद उन्होंने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी, जिसके बाद उनके भाजपा में शामिल होने को लेकर कयास लगाए जाने लगे थे. हालांकि, उन्होंने इन संभावनाओं से इनकार किया था. सीएम पद त्यागने वाले कैप्टन इसके बाद से लगातार कांग्रेस और खासतौर से सिद्धू पर जुबानी हमले कर रहे हैं. उन्होंने साफ कर दिया था कि वे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को पंजाब विधानसभा चुनाव में जीतने नहीं देंगे.

फिलहाल, पंजाब कांग्रेस में फोटो का मुद्दा गरमाया हुआ है. राज्य के गृहमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने पाकिस्तानी पत्रकार आरूसा आलम के साथ तस्वीर शेयर पूर्व सीएम पर निशाना साधा था. 22 अक्टूबर को उन्होंने कहा था कि वे पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI के साथ आलम के कथित संबंधों की जांच करेंगे. हालांकि, कैप्टन इन्हें निजी हमला बताते हुए आरोपों को निराधार करार दिया था.

More articles

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

Trending