Sunday, May 19, 2024
45.1 C
Delhi
Sunday, May 19, 2024
- Advertisement -corhaz 3

आईसीसी ने हार्दिक पंड्या के विश्व कप के बाकी मैचों से बाहर होने की पुष्टि की | भारतीय टीम नाखुश |

विश्व कप 2023 में भारत को बड़ा झटका लगा है। स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या विश्व कप के बाकी बचे मैचों से बाहर हो गए हैं। उन्हें विश्व कप में बांग्लादेश के खिलाफ मैच में चोट लगी थी। उस मैच में भी वह सिर्फ तीन गेंद फेंक सके थे। इसके बाद पिछले तीन मैचों में टीम इंडिया उनके बिना उतरी थी। हार्दिक के टखने में चोट लगी थी और रिहैब के लिए वह बंगलूरू के नेशनल क्रिकेट एकेडमी में थे। आईसीसी ने हार्दिक के विश्व कप से बाहर होने की पुष्टि की है। भारत को फिलहाल लीग राउंड में दो और मैच खेलने हैं। पांच नवंबर को टीम इंडिया का मुकाबला दक्षिण अफ्रीका से और 12 नवंबर को नीदरलैंड से है। भारतीय टीम सेमीफाइनल के लिए भी क्वालिफाई कर चुकी है।

हार्दिक को पिछले महीने पुणे में बांग्लादेश के खिलाफ भारत के विश्व कप मैच के दौरान गेंदबाजी करते हुए बाएं टखने में चोट लग गई थी और अब यह पुष्टि हो गई है कि यह 30 वर्षीय खिलाड़ी समय पर उबरने में विफल रहा है। हार्दिक के रिप्लेसमेंट के तौर पर प्रसिद्ध कृष्णा को टीम में शामिल किया गया है। प्रसिद्ध को विश्व कप का अनुभव नहीं है और वह पहली बार विश्व कप के टीम में शामिल किए गए हैं। प्रसिद्ध को बैकअप के तौर पर तैयार रहने को कहा गया था और वह एनसीए बंगलूरू में थे। शनिवार को टूर्नामेंट की इवेंट टेक्निकल कमेटी से मंजूरी मिलने के बाद उन्हें भारतीय स्क्वॉड में शामिल किया गया।

प्रसिद्ध ने विश्व कप से ठीक पहले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ की थी गेंदबाजी

प्रसिद्ध ने भारत के लिए सीमित ओवरों (वनडे-टी20) के 19 मैच खेले हैं और वह विश्व कप से पहले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज के दौरान टीम इंडिया में शामिल थे। विश्व कप से ठीक पहले ऑस्ट्रेलिया के तीन मैचों की वनडे सीरीज के तीसरे मुकाबले में प्रसिद्ध ने डेविड वॉर्नर का विकेट चटकाया था। उन्होंने पांच ओवर में 45 रन देकर एक विकेट लिया था। सीमित ओवरों में उनके नाम 33 विकेट हैं। हालांकि, इस दाएं हाथ के तेज गेंदबाज को भारतीय पेस अटैक का भविष्य कहा जाता है। वह भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण में जगह बनाने के लिए जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और मोहम्मद सिराज जैसे गेंदबाजों से प्रतिस्पर्धा करते दिखेंगे।

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मुकाबले में चयन के लिए उपलब्ध रहेंगे प्रसिद्ध

टूर्नामेंट टेक्निकल कमेटी ने शनिवार को भारत के रिप्लेसमेंट को मंजूरी दे दी, जिसका मतलब है कि प्रसिद्ध रविवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाले विश्व कप के अहम मुकाबले के लिए चयन के लिए उपलब्ध रहेंगे। भारत और दक्षिण अफ्रीका विश्व कप तालिका में शीर्ष दो स्थानों पर काबिज हैं और कोलकाता में रविवार को होने वाले मैच की विजेता टीम लीग राउंड को शीर्ष पर रहकर खत्म कर सकती है।

विश्व कप के लिए भारतीय टीम: रोहित शर्मा (कप्तान), शुभमन गिल, विराट कोहली, श्रेयस अय्यर, केएल राहुल (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, शार्दुल ठाकुर, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद सिराज, ईशान किशन, रविचंद्रन अश्विन, मोहम्मद शमी, सूर्यकुमार यादव और प्रसिद्ध कृष्णा।

हार्दिक पांड्या को कैसे लगी थी चोट?

दरअसल, बांग्लादेश के खिलाफ मैच के दौरान हार्दिक ने लिटन दास के शॉट को दाएं पैर से रोकने की कोशिश की थी। इस दौरान उन्होंने अपना संतुलन खो दिया था और बाएं पैर पर गलत तरीके से गिर कर गए थे। इसके बाद मैदान से उठते वक्त वह काफी दर्द में दिख रहे थे और लंगड़ा कर चल रहे थे। जल्द ही फीजियो को मैदान पर बुलाया गया। इस दौरान दो सीनियर खिलाड़ी विराट कोहली और कप्तान रोहित शर्मा भी उनके साथ थे। फीजियो के आने के बाद करीब पांच मिनट तक मैच रुका रहा।

बांग्लादेश के खिलाफ हार्दिक तीन गेंद फेंक पाए थे

फीजियो ने हार्दिक के बाएं पैर में पट्टी लगाया और पेन किलर स्प्रे भी किया, लेकिन उससे राहत नहीं मिली। हार्दिक ने उठकर फिर से गेंदबाजी करने की कोशिश की, लेकिन उनसे नहीं हो पाया। ऐसे में रोहित ने बिना किसी देरी के और रिस्क न लेते हुए हार्दिक को फीजियो के साथ मैदान के बाहर भेज दिया। तब तक हार्दिक ने अपने पहले ओवर की तीन गेंद फेंकी थी। बाकी की तीन गेंद विराट कोहली ने फेंकी। उन्होंने छह साल बाद वनडे में गेंदबाजी की।

आगे के मैचों में इस कॉम्बिनेशन के साथ उतर सकता है भारत

हार्दिक पांड्या के बिना टीम इंडिया तीन मैच खेल चुकी है। न्यूजीलैंड, इंग्लैंड और श्रीलंका के खिलाफ भारतीय टीम नए प्लेइंग कॉम्बिनेशन के साथ उतरी थी। हार्दिक जब खेल रहे थे तो शार्दुल ठाकुर को मौका दिया जा रहा था। हालांकि, हार्दिक के बाहर होते ही शार्दुल को आराम देकर तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को खिलाया गया और साथ ही सूर्यकुमार यादव के रूप में एक अतिरिक्त बल्लेबाज को शामिल किया गया। यानी भारतीय टीम तीन तेज गेंदबाज, कुलदीप और जडेजा के रूप में दो स्पिनर और छह बल्लेबाज के साथ मैदान पर उतरी थी।

आगे के मैचों में क्या टीम इंडिया को खलेगी छठे गेंदबाज की कमी?

हालांकि, शमी, बुमराह और सिराज ने पिछले तीन मैचों में छठे गेंदबाज की कमी नहीं खलने दी है। हालांकि, कई पूर्व क्रिकेट एक्सपर्ट्स यह मानते हैं कि आगे के मैचों में छठे गेंदबाज की कमी खल सकती है। हालांकि, भारतीय टीम आगे के मैचों में भी इसी कॉम्बिनेशन के साथ मैदान पर उतर सकती है। इस कॉम्बिनेशन में भारत के पास रोहित, शुभमन, विराट, श्रेयस, राहुल और सूर्या के रूप में छह विशेषज्ञ बल्लेबाज होंगे। वहीं, जडेजा के रूप में एक ऑलराउंडर होगा। साथ ही शमी, बुमराह और सिराज के रूप में तीन विशेषज्ञ तेज गेंदबाज और कुलदीप के रूप में एक विशेषज्ञ स्पिनर होगा।

हार्दिक का इस विश्व कप में प्रदर्शन

30 साल के हार्दिक के इस विश्व कप में प्रदर्शन की बात करें, तो उन्होंने चार मैचों में पांच विकेट झटके हैं। इस दौरान उनका इकोनॉमी रेट 6.84 का रहा है। 34 रन देकर 2 विकेट सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा। वहीं, बल्लेबाजी में उन्हें सिर्फ एक ही बार ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मौका मिला था। उस मैच में वह 11 रन बनाकर नाबाद रहे थे। हार्दिक के ओवरऑल वनडे करियर की बात करें तो हार्दिक ने 86 वनडे में 84 विकेट झटके हैं। साथ ही 11 अर्धशतक की मदद से 1769 रन भी बनाए हैं।

More articles

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

Trending