Tuesday, April 23, 2024
30.1 C
Delhi
Tuesday, April 23, 2024
- Advertisement -corhaz 3

अमरनाथ यात्रा से पहले सुरक्षाबलों ने किया तलाशी अभियान| किया हथियारों का जखीरा बरामद|

श्री अमरनाथ की वार्षिक यात्रा शुरू होने से पहले आतंकी संगठन कश्मीर घाटी में दहशत का माहौल पैदा करने के लिए बड़ी साजिश रच रहे हैं। लश्कर-ए-तैयबा के सहयोगी संगठन द रजिस्टेंस फ्रंट द्वारा लिखा गया धमकी भरा पत्र जोकि इंटरनेट मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, भी इस बात की ओर संकेत करता है। वहीं हमारे सतर्क सुरक्षाबलों ने भी इन गिदड़ भभकियों की परवाह न करते हुए श्रद्धालुओं को बिना डर यात्रा पर आमंत्रित किया है। अपनी सतर्ककता का उदाहरण करते हुए कुपवाड़ा पुलिस और सेना ने हाजम मोहल्ला टड करनाह इलाके में चलाए गए तलाशी अभियान के दौरान हथियारों का बड़ा जखिरा बरामद किया है|

इतनी बड़ी मात्रा में हथियार बरामद होना इस बात की ओर संकेत करता है कि आतंकी संगठनों के लिए काम करने वाले ओवरग्राउंड वर्कर इन हथियारों की मदद से कश्मीर घाटी के विभिन्न इलाकों में हमलों की योजना बना रहे थे। समय रहते पुलिस व सेना की कार्रवाई ने आतंकी मंसूबों पर पूरी तरह से पानी फेर दिया है। वहीं डीजीपी दिलबाग सिंह ने पुलिस व सेना को बधाई देते हुए आगे भी इसी तरह सतर्कता भरने की हिदायत दी। उन्होंने कहा कि हमारी थोड़ी सी लापरवाही आम जनता के लिए महंगी साबित हो सकती है।

पुलिस के अनुसार उन्हें हाजम मोहल्ला में संदिग्ध गतिविधियां देखे जाने की सूचना मिली थी। सेना के साथ पहुंची पुलिस टीम ने इलाके में सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया। इसी बीच एक जगह पर तलाशी लेने पर सुरक्षाबलों को एक संदिग्ध बेग मिला जिसे खोलते ही उनके होश फाख्ता हो गए। बेग में बरामद हथियारों में 10 पिस्तौल, 17 पिस्तौल मैगजीन, 54 पिस्टल राउंड और 5 ग्रेनेड सहित भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद किया। हथियारों को देख यह जाहिर हो रहा था कि आने वाले दिनों में आतंकियों ने ओवर ग्राउंड वर्करों की मदद से हमले तेज करने की योजना बनाई थी।

आपको बता दें कि आतंकवादियों के लिए काम करने वाले ओवरग्राउंड वर्कर जो आम लोगों के बीच ही रहते हैं। पिस्तौल, ग्रेनेड से भीड़भाड़ वाले इलाकों में हमला कर भगदड़ का फायदा उठाकर भाग जाते हैं। आम लोगों के बीच रह रहे इन सहयोगियों को पकड़ना सुरक्षाबलों के लिए मुश्किल साबित हो रहा है। हालांकि पिछले कुछ महीनों में इस तरह के हमले बढ़ जाने के बाद सुरक्षाबलों ने अपने सूचना तंत्रों को अपने-अपने इलाकों में संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रखने को कहा है, जिसका लाभ भी मिल रहा है। यही नहीं व्यापारिक प्रतिष्ठानों व मुख्य बाजारों में लगाए गए सीसीटीवी कैमरों की मदद से भी इनकी धरपकड़ में आसानी हो रही है।

फिलहाल हथियार मिलने के बाद से सुरक्षाबलों ने हाजम व उसके साथ लगते इलाकों में जोरशोर से सर्च ऑपरेशन चलाया हुआ है।

More articles

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

Trending