Sunday, July 25, 2021
31.1 C
Delhi
Sunday, July 25, 2021
- Advertisement -corhaz 3

वैश्विक कोविड वैक्सीनेशन में भारत की क्षमता दुनिया में सबसे बेहतर : UN चीफ

संयुक्त राष्ट्र महासचिव का बयान ऐसे वक्त में आया है जब भारत अपने पड़ोसी देशों को कोरोना वैक्सीन की 55 लाख से ज़्यादा डोज़ प्रदान कर चुका है। भारत ने सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया और भारत बायोटेक की दो वैक्सीन को मंज़ूरी दी है। दोनों ही कंपनी बड़े पैमाने पर वैक्सीन का उत्पादन कर रही हैं।

भारत में कोरोना वायरस वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत 16 जनवरी 2021 को हुई थी। इस अभियान के अंतर्गत अभी तक लगभग 24 लाख लोगों का टीकाकरण हो चुका है। इसके अलावा भारत ने कई पड़ोसी देशों को भी कोरोना वैक्सीन की डोज़ प्रदान की है। कोरोना महामारी का सामना करने में भारत की अहम भूमिका पर संयुक्त राष्ट्र (united nation) ने बयान दिया है। 

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस (antonio guterres) ने भारत की वैक्सीन उत्पादन क्षमता की जम कर प्रशंसा की है। उनके मुताबिक़ भारत कोरोना वैक्सीनेशन के वैश्विक अभियान को सफल बनाने में अहम भूमिका निभाएगा। 

एंटोनियो गुटेरेस ने इस मुद्दे पर बयान देते हुए कहा, “मेरा मानना है कि भारत की वैक्सीन उत्पादन क्षमता दुनिया में सबसे बेहतर है। वहाँ बहुत बड़े पैमाने पर वैक्सीन का उत्पादन हो रहा है इसलिए हम भारतीय संस्थानों के लगातार संपर्क में हैं। मेरी राय में दुनिया को समझना चाहिए कि इसका पूरी तरह से उपयोग किया जाना चाहिए। भारत के पास ऐसे तमाम उपकरण मौजूद हैं, जो यह सुनिश्चित करने में अहम भूमिका निभाने के लिए ज़रूरी हैं जिससे एक वैश्विक टीकाकरण अभियान सम्भव हो।”      

संयुक्त राष्ट्र महासचिव का बयान ऐसे वक्त में आया है जब भारत अपने पड़ोसी देशों को कोरोना वैक्सीन की 55 लाख से ज़्यादा डोज़ प्रदान कर चुका है। भारत ने सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया और भारत बायोटेक की दो वैक्सीन को मंज़ूरी दी है। दोनों ही कंपनी बड़े पैमाने पर वैक्सीन का उत्पादन कर रही हैं। इसी कड़ी में भारत अभी तक मालदीव, बांग्लादेश, भूटान, नेपाल, म्यांमार, मारीशस, श्रीलंका, ब्राज़ील, सेशल्स और अफगानिस्तान को कोरोना वैक्सीन प्रदान कर चुका है। 

इसके अलावा भारत ओमान, कैरीकॉम (caricom) देशों, निकारगुआ, पैसिफिक आइलैंड स्टेट्स को भी वैक्सीन प्रदान करने की तैयार में जुटा हुआ है। वहीं दक्षिण अफ्रीकी स्वास्थ्य मंत्री जवेली मखीज ने भी हाल ही में जानकारी दी थी कि 1 फरवरी 2021 को भारत उन्हें कोरोना वैक्सीन की 10 लाख डोज़ प्रदान करेगा। भारत द्वारा की जाने वाली इस मदद को मद्देनज़र रखते हुए संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने उम्मीद जताई है कि भारत वैश्विक वैक्सीनेशन अभियान को सफल बनाने में मदद करेगा।  

More articles

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

Trending