Monday, October 25, 2021
23.1 C
Delhi
Monday, October 25, 2021
- Advertisement -corhaz 3

भारत से भगोड़ा हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी अब हुआ एंटीगुआ में भी लापता

मेहुल चौकसी. भारत का भगोड़ा बिजनेसमैन. मेहुल चोकसी और उसके भांजे नीरव मोदी पर पंजाब नेशनल बैंक के साथ करीब 14 हजार करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का आरोप है. मेहुल चोकसी भारत से भागकर एंटीगुआ में बस गया था. भारत सरकार उसके प्रत्यर्पण की कोशिशों में जुटी है. अब खबर है कि हीरा कारोबारी रहा मेहुल एंटीगुआ से लापता हो गया है.

एंटिगुआ वेस्टइंडीज के द्वीप समूहों में से एक द्वीप है. इस कैरेबियन द्वीप में कोई भी मोटा पैसा देकर नागरिकता हासिल कर सकता है. मेहुल चोकसी ने इसी तरह से यहां की नागरिकता ली थी. वह यहां जनवरी 2018 से शरण लिए हुए है. उसे भारत में मुकदमा चलाने के लिए वापस लाने के लिए सीबीआई लगातार कोशिशें कर रही हैं, लेकिन अभी तक कामयाबी नहीं मिल पाई है.

मेहुल के क्यूबा भागने की खबरें

एंटीगुआ के स्थानीय अखबारों की रिपोर्ट में बताया गया कि एंटीगुआ की पुलिस ने मेहुल चोकसी की मिसिंग रिपोर्ट दर्ज की है. बताया जा रहा है कि मेहुल को रविवार 23 मई की शाम करीब 5.15 बजे आखिरी बार देखा गया था. उस वक्त वो कार में बैठकर अपने घर से दक्षिण की तरफ कहीं जा रहा था. उसके बाद मेहुल की कार तो बरामद हो गई. लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला.

स्थानीय खबरों में मेहुल के एक करीबी के हवाले से दावा किया गया है कि वो शायद क्यूबा भाग गया है. वहां एक लग्जरी घर में रह रहा है. मेहुल के पास एक और कैरीबियन देश की नागरिकता होने की भी चर्चाएं हैं. लोकल अखबार ने एंटीगुआ को पुलिस कमिश्नर के हवाले से कहा कि पुलिस मेहुल का पता लगाने की भरपूर कोशिश कर रही है. पुलिस ने लोगों से अपील की है कि अगर उन्होंने मेहुल को कहीं देखा हो तो सूचित करें.

मेहुल के वकील विजय अग्रवाल ने न्यूज एजेंसी ANI से कहा कि मेहुल लापता हो गया है. उसके परिवार के लोग उसे लेकर परेशान हैं. एंटीगुआ पुलिस मामले की जांच कर रही है.

बहाने बनाता रहा है मेहुल

मेहुल के लापता होने की खबर ऐसे समय आई है जब भारत सरकार एंटीगुआ प्रशासन पर दबाव बना रही है कि वो भारत के भगोड़े को वापस लौटाए. मेहुल इसका विरोध करता रहा है. मेहुल चोकसी को सरकारी एजेंसियों और अदालत की तरफ से कई बार समन भेजा जा चुका है. लेकिन उसने हर बार आने से मना कर दिया. चोकसी तरह-तरह के बहाने बनाता रहा है. मसलन, वो कहता है कि अगर वो भारत आएगा तो उसे भीड़ मार सकती है. वो ये भी कहता है कि वो बीमार है. इलाज कराने एंटिगुआ आया है. वो भागा नहीं है. बीमार होने की वजह से प्लेन में लंबा सफर नहीं कर सकता.

एंटीगुआ के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन एक बार मेहुल को भारत भेजने का ऐलान कर चुके हैं. 2019 में गैस्टन ब्राउन ने कहा था कि मेहुल चोकसी को पहले यहां की नागरिकता मिली हुई थी. पर अब इसे रद्द किया जा रहा है. उसे भारत प्रत्यर्पित किया जा रहा है. हम किसी भी ऐसे शख्स को अपने देश में नहीं रखेंगे, जिस पर किसी भी तरह के आरोप लगे हों. लेकिन ब्राउन ने आगे ये भी कहा था कि अभी मेहुल से जुड़ा मामला कोर्ट में है. इसलिए हमें पूरी प्रक्रिया का पालन करना होगा. मेहुल चोकसी को कानूनी प्रक्रिया पूरा करने का समय दिया जाएगा. जब उसके पास कोई भी कानूनी ऑप्शन नहीं बचेगा तो उसे भारत प्रत्यर्पित कर दिया जाएगा.

PNB को बड़ी चोट पहुंचाई मामा-भांजे ने

मेहुल के साथ भारतीय बैंकों के साथ इस धोखाधड़ी में शामिल नीरव मोदी इन दिनों लंदन की जेल में है. उसके भारत प्रत्यर्पण का मुकदमा चल रहा है. मेहुल चोकसी और नीरव मोदी दोनों हीरा का कारोबार करते थे. आरोप है कि उन्होंने पीएनबी समेत कुछ और बैंकों के साथ धोखेबाजी करके करोड़ों रुपए की हेराफेरी की. ये मामला 2018 में सामने आया था. तभी से विपक्ष इस मुद्दे पर मोदी सरकार पर हमलावर था.

More articles

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

Trending