Thursday, September 29, 2022
28.1 C
Delhi
Thursday, September 29, 2022
- Advertisement -corhaz 3

फिल्म ‘द कश्मीरी फाइल्स’ देश में मचा रही धूम |कांग्रेस और बीजेपी को ले आई आमने सामने

जम्‍मू-कश्‍मीर में कश्मीरी पंडितों के विस्थापन और जिहादियों की ओर से उन पर हुए अत्याचारों पर बनी फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स (The Kashmir Files) देश में जबरदस्त धूम मचा रही है। अब तक देश के पांच राज्य इस फिल्म को टैक्स फ्री करने की घोषणा कर चुके हैं। उधर, फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ पर सियासत शुरू हो गई है। इसको लेकर कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी आमने-सामने आ गए हैं। केरल कांग्रेस ने कश्मीरी पंडितों पर कटाक्ष भरे ट्वीट करके पार्टी को सांसत में डाल दिया है। इस क्रम में सबसे पहले केरल कांग्रेस ने फिल्म को लेकर एक विवादित ट्वीट किया, हालांकि पार्टी ने बाद में ट्वीट को डिलीट कर दिया। इसके साथ ही फिल्म को कम स्क्रीन्स पर रिलीज किए जाने को लेकर रायपुर, आगरा समेत कई शहरों में विभिन्न संगठन सिनेमाघर और मल्टीप्लेक्स के सामने प्रदर्शन कर रहे हैं।

मध्यप्रदेश सरकार ने पुलिसकर्मियों को फिल्म देखने के लिए एक दिन का अवकाश दिया है। मध्‍य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने पुलिस महानिदेशक को पुलिसकर्मियों को फिल्म देखने के लिए एक दिन की छुट्‌टी देने के लिए कहा है। उन्‍होंने कहा है कि सुविधानुसार पुलिसकर्मी जब भी अपने परिवार के साथ फिल्म देखने जाना चाहें, उस दिन उनके अवकाश को मंजूर किया जाए। उधर, राजस्थान के कांग्रेस विधायक भंवरलाल शर्मा ने फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ को राज्य में टैक्स फ्री करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि यह जरूरी है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग कश्मीरी ब्राह्मणों का दर्द देखें।

देश के सात राज्‍यों ने इस फ‍िल्‍म को टैक्‍स फ्री कर दिया है। अब तक गुजरात, मध्यप्रदेश, कर्नाटक, हरियाणा, गोवा, त्रिपुरा और उत्तराखंड में टैक्स फ्री कर दिया गया है। वहीं राजस्थान में भाजपा के साथ कांग्रेस विधायक भी फिल्म को टैक्स फ्री करने की मांग करे हैं। तीन दिनों में फिल्म की कमाई में 325 फीसद का उछाल देखने को मिला है। फिल्म की स्क्रीन्स को भी 600 से बढ़ाकर 2000 कर दिया गया है।

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में फिल्म देखने गए भाजपा नेताओं के हंगामे का एक वीडियो भी सामने आया है। इसमें भाजपा नेता आरोप लगा रहे हैं कि मल्टीप्लेक्स पीवीआर में सीटें खाली रहने के बावजूद टिकट नहीं दिया जा रहा है। पीवीआर में हाउसफुल का बोर्ड लगा दिया गया है। ‘द कश्मीर फाइल्स’ को लेकर रविवार को केरल कांग्रेस ने ट्वीट किया था कि जम्मू-कश्मीर में मारे गए पंडितों से ज्यादा संख्या तो मुस्लिमों की रही है। ट्वीट वायरल होते ही सब तरफ से लोगों ने कांग्रेस को घेरना शुरू कर दिया है।

पूर्व पीएम इंदिरा गांधी ने दिया था चिट्ठी का जवाब

इसी बीच ‘द कश्मीर फाइल्स’ के डायरेक्टर विवेक रंजन अग्निहोत्री (Vivek Ranjan Agnihotri) ने ट्विटर पर पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का एक पत्र साझा किया है। यह पत्र उन्होंने 8 जनवरी, 1981 को न्यूयार्क में रहने वाले कश्मीरी पंडित डाक्टर एन मित्रा को लिखा था। दरअसल डा मित्रा ने कश्मीर में रह रही अपनी भतीजी के अचानक लापता हो जाने पर तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को चिट्ठी लिखी थी। इसके जवाब में इंदिरा गांधी ने उन्हें पत्र भेजा था। फ‍िल्‍म डायरेक्‍टर ने इंदिरा गांधी के इसी पत्र का स्क्रीन शाट ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा, ‘प्रिय राहुल गांधी जी, आपकी दादी की राय अलग थी। हालांकि, केरल कांग्रेस के इस ट्वीट पर अभी तक राहुल गांधी, सोनिया या प्रियंका गांधी वाड्रा की ओर से अब तक कोई टिप्पणी नहीं आई है। उनकी चुप्‍पी पर भी सियासत शुरू हो गई है।

सोशल मीडिया पर छिड़ी बहस

गौरतलब है कि बालीवुड फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ के बहाने एक बार फ‍िर कश्‍मीर पंडितों का मामला सुर्खियों में है। अब यह मामला सियासी तूल पकड़ता जा रहा है। फ‍िल्‍म में अनुच्‍छेद 370 का और कांग्रेस का जिक्र होने से इसका सियासी फलक बड़ा हो गया है। इस फिल्म को लेकर सोशल मीडिया पर बहस छिड़ गई है। कश्मीरी पंडितों के पलायन पर बनी फिल्म ‘कश्मीर फाइल्स’ को बाक्‍स आफिस पर शानदार रिस्पान्स मिल रहा है। सोशल मीडिया से लेकर तमाम प्लेटफार्म्स पर इसकी खूब चर्चा हो रही है। इस फ‍िल्‍म को लेकर कांग्रेस और भाजपा में आरोप-प्रत्‍यारोप का दौर शुरू हो गया है।

More articles

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

Trending