Thursday, October 21, 2021
32.1 C
Delhi
Thursday, October 21, 2021
- Advertisement -corhaz 3

क्या है मुख़्तार अंसारी की निजी एम्बुलेंस का सच ?

पंजाब की रोपड़ जेल में बंद विधायक मुख्तार अंसारी को मोहाली की कोर्ट में पेश किया गया. मुख़्तार को जिस एंबुलेंस से लाया गया, उस पर विवाद हो गया है. दरअसल इस एंबुलेंस का नंबर यूपी का है. वह नंबर एक अस्पताल के नाम पर रजिस्टर्ड है. हालांकि जो पता सरकारी रिकॉर्ड में दर्ज है, वहां पर कोई अस्पताल है ही नहीं. खबर है कि ये एंबुलेंस मुख़्तार की है.

रोपड़ जेल से मुख्तार अंसारी को व्हीलचेयर पर बुधवार, 31 मार्च को मोहाली कोर्ट में लाया गया था. मोहाली के एक बिल्डर से फिरौती मांगने के मामले में. उस दौरान कुछ लोगों की निगाहें अचानक उस एंबुलेंस पर जा टिकीं, जिससे मुख्तार अंसारी कोर्ट पहुंचा था. इस एंबुलेंस का नंबर ही चौंकाने वाला था. नंबर था UP 41 AT 7171. लोगों के मन में सवाल उठे कि यूपी की एंबुलेंस पंजाब में क्या कर रही है.

इंडिया टुडे की जांच में क्या निकला?

इंडिया टुडे ने जब इसकी पड़ताल की तो पता चला ये नंबर राजधानी लखनऊ से सटे बाराबंकी जिले के परिवहन विभाग में श्याम सन अस्पताल के नाम पर रजिस्टर्ड है. इस एंबुलेंस के मालिक के तौर पर डॉ. अलका राय का नाम दर्ज है. जो मोबाइल नंबर लिखा था, वो भी गलत निकला.

बाराबंकी में श्याम सन अस्पताल के बारे में जानकारी जुटाई गई तो पता चला यह अस्पताल मऊ के श्याम संजीवनी अस्पताल की ब्रांच थी. इसकी मालिक डॉक्टर अलका राय ही हैं. निजी अस्पताल की यह एंबुलेंस मुख्तार अंसारी तक कैसे पहुंचीं? इसकी पड़ताल की गई तो पता चला कि इसे मुख्तार अंसारी ने निजी तौर पर किराए पर ले रखा है.

इंडिया टुडे को सूत्रों ने बताया कि मुख्तार अंसारी जब भी जेल से कोर्ट आता-जाता है, इसी एंबुलेंस का इस्तेमाल करता है. इस एम्बुलेंस का रजिस्ट्रेशन तीन साल पहले खत्म हो चुका है. ये एम्बुलेंस 2017 से फिटनेस के लिए RTO कार्यालय बाराबंकी नहीं पहुंची थी. अब सवाल उठ रहा है कि बिना रजिस्ट्रेशन के चल रही एम्बुलेंस का इस्तेमाल मुख्तार अंसारी कैसे कर रहा था?

विधायक अलका राय ने उठाए सवाल

कृष्णानंद राय की पत्नी और BJP विधायक अलका राय ने आरोप लगाया कि कांग्रेस सरकार मुख्तार अंसारी को बचा रही हैं. उन्होंने ट्वीट करके सवाल उठाए कि ये एम्बुलेंस है या माफ़िया डॉन की लग्ज़री गाड़ी? UP के रजिस्ट्रेशन नंबर की ये गाड़ी किन हालातों में पंजाब पहुंची? एक माफ़िया डॉन कैसे इस गाड़ी में घूम रहा है? इसकी जांच होनी चाहिए.

मुख्तार की पत्नी ने राष्ट्रपति से मदद की गुहार लगाई

दूसरी ओर, मुख्तार अंसारी की पत्नी अफशां अंसारी ने राष्ट्रपति को चिट्ठी लिखी है. इसमें मुख्तार को पंजाब से उत्तर प्रदेश लाने के दौरान उनकी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम सुनिश्चित करने का आदेश देने की गुहार लगाई है. पत्र में अफशां ने आशंका जताई है कि अगर मेरे पति की सुरक्षा की जिम्मेदारी तय किए बगैर उन्हें यूपी भेजा गया तो निश्चित रूप से कोई झूठी कहानी रचकर उनकी हत्या करा दी जाएगी. बता दें कि हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने मुख्तार को पंजाब की जेल से यूपी की जेल में शिफ्ट करने का आदेश दिया है.

More articles

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

Trending