Sunday, May 19, 2024
45.1 C
Delhi
Sunday, May 19, 2024
- Advertisement -corhaz 3

9/9 के स्कोर के साथ उतरी टीम इंडिया आज खेलेगी न्यूजीलैंड के साथ सेमीफइनल | तीसरे विश्व कप के ख़िताब से अब भारत दो जीत दूर |

9 अलग-अलग शहरों में 9 अलग-अलग टीमों को मात देकर 9/9 के स्कोर के साथ सेमीफाइनल में पहुंची टीम इंडिया आज वनडे वर्ल्ड कप 2023 में परफेक्ट 10 का स्कोर लगाना चाहेगी। हालांकि तीसरे विश्व खिताब से सिर्फ दो जीत दूर टीम इंडिया के लिए यह मुकाबला इस टूर्नामेंट का सबसे मुश्किल मुकाबला होने वाला है।

मुश्किल इसलिए क्योंकि यह मुकाबला मैदान से ज्यादा दिमाग में खेला जाएगा। चार साल पहले वनडे वर्ल्ड कप में इसी कीवी टीम के खिलाफ भारत को सेमीफाइल में हार मिली थी और एक बार फिर जब वही टीम सेमीफाइनल में सामने होगी तो पिछला परिणाम जरूर दबाव बनाएगा। मैदान पर दोनों टीमों के बीच तुलना की जाए तो टीम इंडिया हर मामले में 20 नजर आ रही है लेकिन कोई भी टीम परफेक्ट नहीं होती और मजबूती के साथ साथ हर टीम में कमजोरी भी होती है।

टीम इंडिया

मजबूती

1. टीम इंडिया की सफलता के पीछे सबसे बड़ी वजह अच्छा स्टार्ट रहा है। ओपनर रोहित शर्मा तेज शुरुआत दिलाकर मजबूत टोटल का मंच तैयार कर दे रहे हैं। पावरप्ले में उनका स्ट्राइक रेट 129.53 का रहा है जो बेस्ट है।

2. मिडल ऑर्डर में कोई ना कोई बल्लेबाज क्रीज पर पांव जमा ही ले रहा है। अभी तक विराट के अलावा श्रेयस और केएल राहुल भी इस टूर्नामेंट में शतक जड़ चुके हैं। मिडल ऑर्डर से कुल चार शतक आए हैं।

3. पेस अटैक हैरान करने वाला रहा है। धीमी बताई जा रही पिचों पर भी जिस तरह से भारतीय पेसर्स खासकर मोहम्मद शमी ने विकेट चटकाए हैं। भारत ने अभी तक कुल 85 विकेट निकाले हैं जो सर्वाधिक हैं।

कमजोरी

1. कीवी टीम में तीन स्पिनर्स हैं और स्पिन के खिलाफ भारत की रन बनाने की गति धीमी रही है। यदि तीनों स्पिनर्स ने अपने पूरे-पूरे ओवर किए तो 30 ओवर में रनों की रफ्तार धीमी रहना भारी पड़ सकता है।

2. रोहित शर्मा को कीवी टीम के प्रमुख बोलर ट्रेंट बोल्ट के शुरुआती ओवर्स उन्हें संभल कर खेलने होंगे। बोल्ट की अंदर आती गेंद ने कई बार रोहित का विकेट लिया है। यदि ऐसा यहां भी हुआ तो टीम मुश्किल में फंस जाएगी।

3. मुंबई की पिच पर मिचेल सैंटनर अच्छा खासा टर्न हासिल कर सकते हैं। ऐसे में उन्हें सम्मान देने की जरूरत होगी। सैंटनर ने अभी तक 16 विकेट निकाले हैं। वह खतरनाक साबित हो सकते हैं।

न्यूजीलैंड

मजबूती

1. रचिन रविंद्रा टीम की सबसे बड़ी मजबूती हैं। इस टूर्नामेंट की खोज माने जा रहे रचिन ने बैट और बॉल दोनों से योगदान दिया है। उन्होंने एक और टीम की ओर से सबसे ज्यादा 565 रन बनाए हैं और दूसरी ओर पांच विकेट भी निकाले हैं।

2. केन विलियमसन की कप्तानी इस टीम की सफलता की एक बड़ी वजह रहे हैं। उनका बल्ला और दिमाग दोनों ही शानदार हैं। औसत दर्जे के प्लेयर से भी कैसे वर्ल्ड क्लास प्रदर्शन करना है, वो केन से बेहतर कोई नहीं जानता।

3. स्पिन अटैक कीवियों का मजबूत है। टीम में तीन स्पिनर हैं और तीनों ही विकेट निकाल रहे हैं। बाएं हाथ के स्पिनर मिचेल सैंटनर ने 16 में से 15 दाएं हाथ के बल्लेबाज आउट किए हैं और टीम इंडिया के शुरुआती छह बल्लेबाज दाएं हाथ के हैं।

कमजोरी

1. टीम को चोट ने बहुत परेशान किया है। कप्तान केन विलियमसन अंगूठे की चोट से उबर चुके हैं लेकिन शौ प्रतिशत फिट नहीं हैं। भारत जैसी मजबूत बोलिंग अटैक के खिलाफ चोटिल अंगूठे के साथ बैटिंग आसान हीं होगी।

2. टीम के अहम हथियार ट्रेंट बोल्ट का प्रदर्शन अभी तक औसत रहा है। 9 मैच में 13 विकेट उनकी काबिलियत नहीं दर्शाता। टिम साउदी भी चोट के कारण सिर्फ तीन मैच खेल सके हैं। इससे टीम के पेस अटैक की धार कम हुई है।

3. प्रदर्शन में अनिरंतरता कीवी टीम की कमजोरी है। टूर्नामेंट में उसने शुरुआती चार मैच जीतने के बाद चार लगातार मैच गंवाए और किसी तरह सेमीफाइनल में जगह बनाई। इससे उसके मनोबल पर असर पड़ा होगा, जिसका असर दिख सकता है।

More articles

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

Trending