Wednesday, November 30, 2022
14.1 C
Delhi
Wednesday, November 30, 2022
- Advertisement -corhaz 3

कोरोना वायरस से हो सकता है दिमाग पर भी असर, जानिए क्या कहती है NIH की नयी रिसर्च |

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ (एनआईएच) के एक अध्ययन में कहा गया है कि कोरोना संक्रमण से पैदा होने वाले इम्यून रिस्पांस दिमाग को नुकसान पहुंचा सकते हैं. साथ ही इसके चलते कम समय या फिर लंबे समय के लिए संक्रमित व्यक्ति में न्यूरोलॉजिकल लक्षण हो सकते हैं. ब्रेन में प्रकाशित एक रिसर्च में इसका खुलासा किया गया है. नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर एंड स्ट्रोक (एनआईएनडीएस) के शोधकर्ताओं ने उन नौ लोगों में मस्तिष्क परिवर्तन की जांच की, जिनकी वायरस से संपर्क में आने के बाद अचानक मृत्यु हो गई.  वैज्ञानिकों को इस बात के प्रमाण मिले हैं कि एंटीबॉडी, वायरस और अन्य आक्रमणकारियों के जवाब में इम्यून सिस्टम द्वारा शरीर में बनने वाले प्रोटीन दिमाग की रक्त वाहिकाओं (Blood Vessels) को लाइनिंग करने वाली सेल्स पर हमले में शामिल होते हैं. इससे दिमाग की नसों में सूजन होती है और नुकसान पहुंचता है.  समूह के पहले के एक अध्ययन के अनुसार, रोगियों के दिमाग में SARS-CoV-2 का पता नहीं चला था.

इसके मुताबिक यह था कि कोरोना वायरस मस्तिष्क पर सीधा असर नहीं करता है. यह समझना कि SARS-CoV-2 ब्रेन डैमेज को कैसे ट्रिगर कर सकता है.  NIH के अनुसार, COVID-19 रोगियों के लिए उपचार के विकास में मदद कर सकता है, जिनके पास न्यूरोलॉजिकल लक्षण हैं. एनआईएनडीएस के नैदानिक ​​निदेशक और रिसर्च के वरिष्ठ लेखक अविंद्र नाथ ने कहा, “मरीजों को अक्सर कोरोना के साथ न्यूरोलॉजिकल समस्याएं भी शुरू होती हैं.” “हमने पहले शवों के परीक्षण के दौरान रोगियों के दिमाग में ब्लड वेसेल्स में नुकसान और सूजन को दिखाया था, लेकिन हमें नुकसान का कारण समझ में नहीं आया. मुझे लगता है कि इस पेपर में हमने महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त की है.” डॉ. नाथ और उनकी टीम ने पाया कि COVID-19 के जवाब में उत्पादित एंटीबॉडी रक्त-मस्तिष्क बाधा के लिए महत्वपूर्ण कोशिकाओं को गलती से लक्षित कर सकते हैं.

कसकर पैक की गई एंडोथेलियल कोशिकाएं रक्त-मस्तिष्क की बाधा बनाने में मदद करती हैं, जो हानिकारक पदार्थों को मस्तिष्क तक पहुंचने से रोकती हैं जबकि आवश्यक पदार्थों को गुजरने देती हैं. दिमाग में रक्त वाहिकाओं (Blood Vessels) में एंडोथेलियल कोशिकाओं को नुकसान होने से रक्त से प्रोटीन का रिसाव हो सकता है. यह कुछ COVID-19 रोगियों में रक्तस्राव और थक्के का कारण बनता है और स्ट्रोक के जोखिम को बढ़ा सकता है.  NIH के अनुसार, अध्ययन में COVID-19 के बाद सिरदर्द, थकान, स्वाद और गंध की कमी, नींद की समस्या और “ब्रेन फॉग” न्यूरोलॉजिकल समस्याओं में शामिल हैं.

More articles

- Advertisement -corhaz 300

Latest article

Trending

supjav HUNVR-175 [VR] 我想好好学习... Duero 私人导师每天都忙于开发我的乳头。 HJMO-514 泌尿科护士伏击南帕! - 为什么不尝试AV演员无与伦比的大阴茎性病测试? - 请尽你所能来平息肿胀的杆子和球! - 100万日元挑战成功! - 如果你失败了馅饼惩罚游戏! 444KING-112 伊吹 SSIS-549-Uncensored-Leaked 出差时鄙视我的中年性骚扰老板,没想到在共享房间里…… G罩杯新员工,不经意间感到不忠的性行为一直持续到早上 舞翼 SABA-800 与过于激进的离家出走的女孩发生性关系。 - 05 8 人 240 分钟